Home Crime Amethi News : जाली दस्तावेजों के सहारे नौकरी कर रहे थे 5...

Amethi News : जाली दस्तावेजों के सहारे नौकरी कर रहे थे 5 शिक्षक

231
0

Amethi News: उत्तर प्रदेश के अमेठी में जाली दस्तावेजों के सहारे परिषदीय school में सहायक अध्यापक की नौकरी हासिल करना 5 teachers को भारी पड़ा।
मामला संज्ञान में आने और जांच में फर्जीवाड़ा की पुष्टि होने के बाद (BSA) ने शुक्रवार को पांचों शिक्षकों को dismiss कर दिया है।
शिक्षकों को बर्खास्त करने के बाद संबंधित ब्लॉक्स के BEO को बर्खास्त शिक्षकों के खिलाफ FIR दर्ज कराते हुए उनसे वेतन की रिकवरी सुनिश्चित कराने का आदेश दिया है।

अमेठी BSA अरविंद कुमार पाठक की कार्रवाई से बेसिक शिक्षा विभाग में हड़कंप मचा है।
वर्ष 2016 में आई 16 हजार शिक्षक भर्ती में फिरोजाबाद के अनुपम कुमार सिंह को अमेठी ब्लॉक के primary school पूरे जिवनंदन तिवारी में नियुक्ति मिली थी.
इसी तरह फिरोजाबाद के ही श्याम राठौर को सिंहपुर के प्राथमिक विद्यालय पेडरिया, भारतेंदु सिंह को बाजारशुक्ल के प्राथमिक विद्यालय पूरे बख्तावर, अनुज कुमार सिंह को इसी ब्लॉक के पीएस शेखपुर व कौशलेंद्र यादव को बाजार शुक्ल के ही पूरे पाहा स्थित primary school में बतौर सहायक अध्यापक तैनात कर दिया था ।

शिक्षकों को तैनाती मिलने के कुछ दिन बाद फिरोजाबाद के एक व्यक्ति ने पांचों teachers के खिलाफ शासन में शिकायत की थी. शिकायतकर्ता का कहना था कि इसी नाम के पांच शिक्षक फिरोजाबाद के अलग-अलग स्कूल में कार्यरत हैं. शिकायतकर्ता ने यहां तक कहा कि एक नाम पर फिरोजाबाद व अमेठी में कार्यरत इन शिक्षकों के नाम ही नहीं पता, पैन card, आधार कार्ड व High School समेत सभी शैक्षिक अभिलेख के Subject, अनुक्रमांक, पूर्णांक व प्राप्तांक तक एक हैं.

Amethi News:शिकायत को गंभीरता से लेते हुए शासन ने सिर्फ फिरोजाबाद व अमेठी के BSA बल्कि एसटीएफ को भी जांच करने की जिम्मेदारी दी।
जांच के दौरान फिरोजाबाद के तत्कालीन BSA डॉ. अरविंद कुमार पाठक ने पाया कि Firozabad में कार्यरत सभी teachers के अभिलेख सही हैं. उधर, एसटीएफ ने जांच में पाया कि जो पांच शिक्षक अमेठी में नौकरी कर रहे हैं, उन्होंने Firozabad में अपने जो पते दिखाए हैं वह फर्जी हैं।

दो वर्ष पूर्व एसटीएफ की रिपोर्ट मिलने के बाद अमेठी में उपरोक्त सभी teachers के वेतन आहरण पर रोक लगाते हुए उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी की गई. नोटिस का जवाब नहीं मिलने के बाद शिक्षकों को एक-एक कर तीन नोटिस दी है।
लेकिन उन्होंने एक भी नोटिस का जवाब नहीं दिया है।
इससे नाराज मौजूदा BSA डॉ. अरविंद कुमार पाठक ने तीन-चार माह पूर्व सभी teachers को अपनी बात व साक्ष्य रखने का अंतिम मौका दिया था. अंतिम मौका मिलने पर भी teachers के उपस्थित नहीं होने व जवाब नहीं देने के बाद शुक्रवार को बीएसए ने सभी को बर्खास्त कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here