Home Entertainment अमरीश पुरी के पोते वर्धन पुरी ने अभिनेता बनने के लिए अपने...

अमरीश पुरी के पोते वर्धन पुरी ने अभिनेता बनने के लिए अपने जीवन में की कड़ी मेहनत

110
0
vardhan puri

vardhan puri :- अमरीश पुरी आज भी अपनी आवाज और एक्टिंग से लोगों के दिलों में बसे हुए हैं. अभिनय की दुनिया में दूसरे अभिनेताओं के बच्चे भी अभिनेता बनते हैं, अमरीश पुरी जी के साथ नहीं हुआ क्योंकि अमरीश पुरी जी के बेटो को फिल्म इंडस्ट्रीज के प्रति लगाव नहीं था।

भलेही उनके बेटो को लगाव ना हो परन्तु अमरीश पूरी जी के पोते वर्धन पूरी अपने दादा जी के नक़्शे कदमो पर चल रहे हैं और फिल्म इंडस्ट्री में अपना नाम बनाते जा रहे हैं।

एक वक्त की बात हैं जब वर्धन पूरी 5 वर्ष के थे तब उनके दादाजी जी ने उनको पंडित सत्यजीत दुबे जी से मिलवाया। उसी के बाद से वर्धन फिल्मो में छोटे छोटे किरदार निभाने लगे। आपको को लग रहा होगा की वर्धन पूरी की एक्टर बनने की जर्नी आसान होगी क्योकि वह अमरीश पूरी के पोते हैं। तो हम बता दे की ऐसा नहीं हैं वर्धन पूरी ने बाकि बड़े एक्टरों की तरह एक्टर बनने के लिए खूब संघर्ष किया।

वर्धन पूर्वी की पहली फिल्म | vardhan puri 

वर्धन पूरी ने अपनी शुरुआत सन 2019 को बनी एक फिल्म ‘ये साली आशिक़ी’ से की और यह बात कम ही लोग जानते थे की वर्धन पूरी श्री अमरीश पूरी जी के पोते हैं। क्योकि वर्धन ने कभी-भी बाकि नेपो किड्स की तरह अपना नाम नहीं दिया की उनके दादाजी की मदद से उन्हें फिल्म मिली है।

वर्धन जी का कहना हैं की उन्हों अपने करियर की शुरुआत थिएटर से की और जब तक मेरे दादाजी जिन्दा थे, मैं थिएटर ही कर रहा था। और मैंने अपना अभिनय घर पर सीखा हैं। मेरे दादा जी ने शिखाया था की अगर जीवन में कुछ बड़ा बनाना हैं तो अपने दम पर बनो और मेहनत करते रहो।

वर्धन जी ने एक इंटरव्यू में बताया की मेरे दादाजी अनुशासन के बड़े पक्के हैं उन्हें अनुशासन पसंद हैं। वह चाहते थे की मैं सेट से जितना हो सके उतना दूर रहु , क्योकि मैं एक दो बार सेट पर जा चूका हु और वहां मुझे इसतराह ट्रीट कर रहे थे |

जैसे की मै कोई राजा का बेटा हूँ, यह देख दादू खूब डर गए थे क्योकि उन्हें लग रहा था की में अभी एक छोटा सा बच्चा हूँ और सेट की ऐसी ट्रीटमेंट के कही मुझे ऐसा न लगे की मैं कोई विशेष बच्चा हूँ, वह इसलिए क्योकि उनका कहना था की बच्चे शुरुआत में जितना सामान्य जीवन जिए उतना ही बेहतर होगा।

वर्धन पूरी के पिता राजीव पूरी मर्चेंट नेवई में रह चुके हैं। लेकिन उन्हें इस करियर में अपने पिताजी अमरीश पूरी की मदद नहीं मिल सकी। राजीव जी के बेटे वर्धन ने कुल तीन फिल्मों को साइन किया था मगर कोरोना के चलते इन फिल्मो को रद्द कर दीया गया। हालांकि आज वर्धन एक बढ़िया रोले का इंतज़ार कर रहे हैं। इसी के साथ साथ वह अपनी लिखी हुई कहानियों पर भी काम कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें:- DID Super Moms

इसे भी पढ़ें:-TOP 10 ATTRACTIVE JUTI FOR GIRLS DESIGN 2022

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here