Home sports Ravichandran Ashwin ने ढाका के शेर-ए-बंगाल स्टेडियम में गेंदाबाजी से कमाल किया?

Ravichandran Ashwin ने ढाका के शेर-ए-बंगाल स्टेडियम में गेंदाबाजी से कमाल किया?

171
0
Ashwin is the fastest to take 450 wickets in Test cricket

Ravichandran Ashwin : ढाका के शेर-ए-बंगाल स्टेडियम में खेले जा रहे टेस्ट सीरिज के दूसरे मैच में भारती स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का जादू गया। अश्विन ने शाकिब अल हसन की कप्तान वाली बंगलादेश टीम के खिलाफ चार विकेट ले लिए। गेंदाबाजों की बारिश में अश्विन पांचवें और टेस्ट क्रिकेट में ओलराउंडरों की बारिश में दूसरारे स्थान पर हैं। अश्विन चटागांव टेस्ट की दो परायों में सिर्फ एक विकेट ले खातिर। लम्बे समय बाद चैना मैं गेंदाबाज कुलदीप यादव को टेस्ट क्रिकेट में मौका मिला है। अनहोन इस मैच में कुल आठ विकेट ले और प्लेर ओफ द मैच बने।

इस शानदार प्रदर्शन के बावजूद ढाका में कुलदीप को अंतिम एकादश में मौका नहीं दिया गया। टीम इंडिया शेर-ए-बंगाल स्टेडियम में दो स्पिनर और तीन तेज गेंदाबाजों के साथ उतारी है। मोहम्मद सिराज, उमेश यादव और जयदेव स्पिन विभाग में अक्षर पटेल और अश्विन की अनभिज्ञता से जागे हैं। पूर्व दिगज सुनील गावस्कर ने भी कुलदीप को मौका नहीं देने के झूठ कील राहुल की आलोचना की। कुलदीप की कुर्बानी का सीधा फैसला अश्विन को इस माईच में मिला।

ढाका के शेर-ए-बंगाल स्टेडियम में खेले जा रहे टेस्ट सीरीज में

Ravichandran Ashwin ढाका के शेर-ए-बंगाल स्टेडियम में खेले जा रहे टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच के दौरान भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का जादू टूट गया। अश्विन ने शाकिब अल हसन की कप्तानी वाली बांग्लादेश टीम के खिलाफ चार विकेट लिए थे। गेंदबाजों की रैंकिंग में अश्विन पांचवें और टेस्ट क्रिकेट में ऑलराउंडरों की रैंकिंग में दूसरे स्थान पर हैं। वह चटगांव टेस्ट में फ्लॉप रहे थे। कि विशेषज्ञ भी उनसे पूछताछ कर रहे थे। अश्विन ने निश्चित तौर पर ढाका में शानदार प्रदर्शन कर अपने ‘पाप’ धोने की कोशिश की है।

इस पोस्ट को भी देखें > A beautiful and cheap hill station in India

अश्विन चटगांव टेस्ट की दो पारियों में सिर्फ एक विकेट ले सके। लंबे समय बाद चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को टेस्ट क्रिकेट में मौका मिला है। उन्होंने इस मैच में कुल आठ विकेट लिए और प्लेयर ऑफ द मैच बने। इस शानदार प्रदर्शन के बावजूद ढाका में कुलदीप को अंतिम एकादश में मौका नहीं दिया गया।

टीम इंडिया शेर-ए-बंगाल स्टेडियम में दो स्पिनर और तीन तेज गेंदबाजों के साथ उतरी है। स्पिन विभाग में अक्षर पटेल और अश्विन को और तेज गेंदबाज के तौर पर मोहम्मद सिराज, उमेश यादव और जयदेव उनादकट को जगह दी गई है। पूर्व दिग्गज सुनील गावस्कर ने भी कुलदीप को मौका नहीं देने के लिए केएल राहुल की आलोचना की थी। कुलदीप की कुर्बानी का सीधा फायदा अश्विन को इस मैच में मिला।

Ravichandran Ashwin ने शुरुआती सफलता दिलाई

Ravichandran Ashwin ने इस मैच में 22 ओवर फेंके। इस दौरान उन्होंने 3.30 की इकॉनमी से 71 रन दिए और चार विकेट भी लिए। सलामी बल्लेबाज नजमुल हसन शंटो को अश्विन ने 15वें ओवर में एलडब्ल्यू आउट किया। नंबर-3 पर बल्लेबाजी करने आए मोमिनुल हक 84 रन बनाकर पिच पर सेट हो गए। अश्विन ने 41वें ओवर में उन्हें विकेट के पीछे ऋषभ पंत के हाथों कैच कराया।

इस खबर को भी देखें > ipl 2023 schedule : SRH मयंक पर और CSK सैम करन पर दांव लगा सकती है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here