Home राजनीति Hindi news किसानों और जनता को गाड़ी से कुचलने वाले व्यक्ति को हिरासत में...

किसानों और जनता को गाड़ी से कुचलने वाले व्यक्ति को हिरासत में नहीं लेने का मतलब देश का संविधान खतरे में है, Rahul gandhi

421
0
Rahul gandhi lakhimpur khiri news

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul gandhi) ने लखीमपुर खीरी(lakhimpur kheri ) की हिंसा और प्रियंका गांधी वाड्रा को हिरासत में लिए जाने को लेकर मंगलवार को बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि किसानों को गाड़ी से कुचलने वाले केंद्रीय मंत्री के बेटे को हिरासत में नहीं लिए जाने का मतलब यह है कि भारत देश का संविधान खतरे में है. उन्होंने जोर देकर यह भी कहा कि प्रियंका गांधी(Priyanka gandhi) एक सच्ची कांग्रेसी वादी हैं और डरने वाली नहीं हैं तथा उनका सत्याग्रह कार्यक्रम जारी रहेगा.

राहुल गांधी ने लखीमपुर खीरी में किसानों पर गाड़ी चलाने वाले के संबंध में एक कथित वीडियो को साझा करते हुए Facebook post में कहा कि एक मंत्री का पुत्र अगर अपनी कार के नीचे सत्याग्रही किसानों को कुचल दे, तो देश का संविधान ख़तरे में है. अगर इस संबंध में वीडियो के सामने आने के बाद भी उसे गिफ्तार ना किया जाए तो देश का संविधान ख़तरे में है.

यह भी पढ़े :- Barmer, माँ ने दो बच्चों के साथ पानी की टंकी में कूद कर जीवन लीला समाप्त की

अगर एक महिला को 30 घंटे तक बिना प्राथमिकी के हिरासत में रखा जाए तो ऐसा प्रतीत होता है कि भारत देश का संविधान ख़तरे में है. और उन्होंने बताया कि अगर क़त्ल हुए पीड़ितों के परिजनों से किसी को ना मिलने दिया जाए तो देश का संविधान ख़तरे में है. अगर ये वीडियो किसी व्यक्ति( latest news ) को दुखी नहीं करता है तो मानवता भी ख़तरे में नजर आ रही है

30 घंटे बीत जाने के बाद भी प्रियंका गाँधी पुलिस अभिरक्षा में :- lakhimpur kheri news in hindi

लखीमपुर खीरी (lakhimpur kheri news in hindi) के तिकोनिया इलाके में हुई हिंसा में आठ लोगों के समेत चार किसानों की मौत के बाद वहां जाने के दौरान रास्ते में ही हिरासत में लीं गईं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा 30 घंटे बाद भी पुलिस हवालात में हैं. कांग्रेस के नेता अजय कुमार लल्लू ने बताया कि प्रियंका गाँधी के समेत 5 ओर नेताओं को हवालात में रखा गया है

सूत्रों के मुताबिक, मिश्रा के पुत्र आशीष के समेत कई और लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो चूका है लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में रविवार को उपमुख़्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के द्वारा केंद्रीय गृह मंत्री अजय मिश्रा के जन्मस्थान गांव के दौरे के विरोध को लेकर भड़की हिंसा में चार किसानों के समेत पांच और लोगों की मौत हो गई है.

यह भी पढ़े :- पंजाब के Cm चरणजीत सिंह चन्नी का जयपुर दौरा रद्द, सीएम अशोक गहलोट ने बताई वजह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here