Home Crime Sri Ganganagar में दो सगे भाइयों समेत 4 दोस्तों की मौत

Sri Ganganagar में दो सगे भाइयों समेत 4 दोस्तों की मौत

247
0

Sri Ganganagar In Rajasthan:- राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में Sunday की रात में अपना जन्मदिन मनाकर घर लौट रहे पांच दोस्तों में से चार दोस्त की दुर्घटना सड़क हादसे में मौत हो गयी. लेकिन मरने वालों में दो सगे भाई भी हैं। घटना की सूचना मिलते ही युवकों के घरों में सोर-सराबा मच गया। युवक का एक साथी बाल-बाल बच गया। और उसका इलाज Sri Ganganagar के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। और उसकी काफ़ी हालत नाजुक बनी हुई है। वह जीवन और मृत्यु के बीच लड़ रहा है। और हादसे की खबर के बाद इलाके में मातम छा गया।

पुलिस के मुताबिक, दिल दहला देने वाली बात यह घटना श्रीगंगानगर जिले के अनूपगढ़ थाना क्षेत्र की है. रविवार को अनूपगढ़ निवासी जितेंद्र का जन्मदिन मनाया था। वह रात में कार से अपने सगे भाई अंकुश और तीन दोस्तों के साथ बर्थडे पार्टी मनाने गया था। देर रात पांचों युवक वहां से घर लौट रहे थे।

इस दौरान उनकी कार 87 GB के पास भारत माला रोड प्रोजेक्ट की पुलिया से टकराई हादसा इतना भीषण था कि कार पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे में जितेंद्र और अंकुश समेत तीन युवकों की मौके पर ही मौत हो गई।

चौथे युवक की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत

हादसे की सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस राहगीरों की मदद से मौके पर पहुंची और बड़ी मुश्किल से कार में सवार शवों और घायलों को बाहर निकाला. यह भी बताया जा रहा है कि हादसे के दौरान अचानक एक आवारा जानवर कार के सामने आ गया. उसे बचाने के प्रयास में कार अनियंत्रित हो गई। उस के दौरान कार की रफ्तार काफी तेज थी और वह हादसे का शिकार हो गई। पुलिस जब घायलों को लेकर अस्पताल पहुंची तो चौथे युवक रोहित अरोड़ा की भी मौत हो गई.

मरने वाले चारों युवक करीबी रिश्तेदार थे।

उसके बाद पुलिस ने शवों को मोर्चरी में रख दिया और युवकों के परिजनों को सूचना दी. हादसे में युवक की मौत की खबर से परिजन सदमे में चले गये वह नशे की हालत में अस्पताल पहुंचा। वहां शवों को देखकर उसकी हालत गंभीर हो गई। पुलिस आज शवों का पोस्टमार्टम करेगी। मृतक का पांचवां साथी वसीम अकरम श्रीगंगानगर के एक निजी अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहा है. हादसे में मारे गए चारों युवक करीबी रिश्तेदार थे। हादसे के बाद अनूपगढ़ कस्बे में मातम का माहौल है।

तीन परिवारों के बुझे चिराग

हादसे में मारे गए जितेंद्र और अंकुश अनूपगढ़ के मुख्य बाजार में पान की शॉप करते थे। चार बहनों में रोहित इकलौता था। रोहित आदर्श कॉलोनी का रहने वाला था और एक मोबाइल की दुकान पर काम करता था। साहिल मुख्य बाजार में ही फ्रूट की दुकान करता था।

इस खबर को जरूर देखें :- Athiya Shetty Boyfriend जन्मदिन की बधाई देने के चक्कर में ट्रोल हुए KL Rahul

इस पोस्ट को भी देखें :- Gold Earrings Designs That Will Give A New Look To Your Ears

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here