Home covid-19 dogs coronavirus : क्या भारत में फिर आएगी कोरोना की खतरनाक लहर,...

dogs coronavirus : क्या भारत में फिर आएगी कोरोना की खतरनाक लहर, इस नए वेरिएंट ने चीन में चिंता बढ़ा दी है?

147
0
coronavirus news

dogs coronavirus : भारत में इन दिनों कोरोना के मामले कम हो रहे हैं। लेकिन पूरी दुनिया में कोविड के मामले बढ़ते जा रहे हैं। चीन, जापान, दक्षिण कोरिया समेत कई देशों में बढ़ते कोविड मामलों ने भारत समेत दुनिया की चिंता बढ़ा दी है। dogs coronavirus दुनिया भर में नवंबर की शुरुआत से ही कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं। हालांकि भारत में कोविड मामलों की संख्या निचले स्तर पर है। रविवार को देशभर में 12 लोगों की कोविड से मौत हुई, जबकि पिछले तीन दिनों में से एक भी मौत दर्ज नहीं की गई। मार्च 2020 में कोरोना के बाद कोरोना की दर सबसे कम है।

लेकिन चीन और जापान जैसे देशों में कोविड के मामले बढ़ रहे हैं। खासकर चीन में इन दिनों विशेषज्ञ ओमिक्रॉन के सबवैरिएंट बीएफ 7 को कोरोना से बिगड़ते हालात के लिए बड़ा रिस्क फैक्टर मान रहे हैं। कोरोना के इस नए वैरिएंट ने भारत में भी चिंता बढ़ा दी है।

news about coronavirus in india भारत में कोरोना के मामलों में गिरावट

इस सप्ताह के दौरान देश में कोरोना के मामलों की संख्या घटकर 1103 हो गई है। यह संख्या 23-29 मार्च 2020 के बाद सबसे कम है। इसी दौरान देश में पहला लॉकडाउन लगाया गया था। उस सप्ताह देशभर में कोरोना के कुल 736 नए मामले सामने आए थे। जिसके बाद अगले सप्ताह में कोविड मामलों की संख्या बढ़कर 3154 हो गई थी। आपको बता दें कि पिछले हफ्ते (12-18 दिसंबर) में पिछले सात दिनों में कोविड केस में 19 फीसदी की गिरावट देखी गई है।

इस पोस्ट को भी देखें > History of Akshardham Temple Jaipur

भारत में करीब पांच महीने से कोविड के मामलों में लगातार गिरावट आ रही है। साप्ताहिक दर पर नजर डालें तो कोविड मामलों में गिरावट 18-24 जुलाई के बाद शुरू हुई, जब देश में 1.36 लाख नए मामले दर्ज किए गए. इसके बाद से हर हफ्ते कोरोना के मामलों में गिरावट देखी जा रही है। हालांकि, बीच के दो हफ्तों में, कोविड मामलों की संख्या में मामूली उछाल आया। पिछले सप्ताह दर्ज की गई 12 मौतें 16-22 मार्च, 2020 के बाद सबसे कम थीं। इसके बाद देश में कोविड मामलों की संख्या में तेजी से उछाल आया।

coronavirus world wide वैश्विक स्तर पर कोरोना के मामलों में तेजी जारी है।

जहां भारत में कोविड मामलों में गिरावट आ रही है. वहीं दूसरी ओर एशिया, यूरोप के अन्य देशों में हाल के सप्ताहों में मामलों में वृद्धि देखी गई है। worldometers.info के मुताबिक, 2 नवंबर से दुनियाभर में कोविड का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। नवंबर को वैश्विक स्तर पर कोरोना के 3.3 लाख मामले दर्ज किए गए। वहीं 18 दिसंबर तक 55 फीसदी का उछाल आया और यह बढ़कर 5.1 लाख हो गया। हालांकि इस बीच कोविड के ग्राफ में थोड़ी गिरावट भी देखी गई।

इस खबर को भी देखें > मलाइका अरोड़ा को मिली बहन का मजाक उड़ाने की सजा गुस्से में अमृता ने कहा

लेकिन भारत के पड़ोसी देश चीन में कोरोना की पाबंदियों में ढील के बाद कोरोना के मामलों में तेजी से उछाल आया जिसने पूरी दुनिया के लोगों में चिंता बढ़ा दी है। हालांकि, चीन के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, 8 दिसंबर के बाद से कोविड मामलों में गिरावट आई है। और 7 दिसंबर के बाद से कोई मौत दर्ज नहीं की गई है।

जापान में सबसे ज्यादा कोविड केस आ रहे हैं

इस समय सबसे ज्यादा कोविड के मामले जापान से आ रहे हैं। जापान में एक हफ्ते में दस लाख से ज्यादा कोरोना के मामले सामने आए हैं। पिछले हफ्ते कोरोना के मामलों में 23 फीसदी का उछाल आया था। वर्ल्डोमीटर वेबसाइट के अनुसार जापान में 1,600 से अधिक मौतें हुई हैं, एक सप्ताह में 19% की वृद्धि हुई है। इसके अलावा, दक्षिण कोरिया ने पिछले सप्ताह 450,000 से अधिक नए मामलों की सूचना दी, जो पिछले सात दिनों से 9% अधिक है। ब्राजील, जर्मनी, हांगकांग और ताइवान पिछले सात दिनों में 1 लाख से अधिक नए कोविड मामलों की रिपोर्ट करने वाले देशों में शामिल हैं। वहीं फ्रांस में एक हफ्ते में 3.9 लाख और अमेरिका में 2.5 लाख मामले दर्ज किए गए है। हालांकि वर्तमान में कोविड मामलों में गिरावट देखी जा रही है।

1.Covid in China : चीन में पीड़ितों को पसंद आ रही है। कोरोना की दूसरी लहर जानें भारत के लिए खतरा

2.China dogs coronavirus : चीन में कोरोना वायरस का महाविस्फोट, अस्पतालों में लाशों के ढेर, 80 करोड़ लोगों पर खतरा मंडरा रहा है।

  • वैश्विक रिकॉर्ड में कोरोना की तेजी जारी, भारत में कोविड के मामले कम।
  • चीन में ऑमिक्रॉन के सबवेरिएंट BF.7 के मामले सामने आ रहे हैं।
  • सबसे ज्यादा कोरोना के मामले जापान और साउथ कोरिया से आ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here