Home Hindi news tirumala tirupati : भारत के इस शहर में मौजूद है दुनिया का...

tirumala tirupati : भारत के इस शहर में मौजूद है दुनिया का सबसे अमीर मंदिर, जहां हजारों साल से खुद जल रहा है दीया

110
0

tirumala tirupati : हम सभी जानते हैं, कि तिरुपति तिरुमाला देवस्थानम भारत के सबसे अमीर और प्रतिष्ठित मंदिरों में से एक है। लेकिन इस मंदिर से जुड़ी कई ऐसी दिलचस्प बातें हैं, जिनके बारे में शायद ही आप जानते होंगे। जैसे मूर्ति में हमेशा नमी रहती है, या भगवान बालाजी की मूर्ति के बाल असली हैं। ये सब सुनकर आप भी हैरान रह गए।

tirumala tirupati के बारे में

तिरुपति भारत के सबसे प्रसिद्ध तीर्थस्थलों में से एक है। यह आंध्र प्रदेश (andhra pradesh) के चित्तूर जिले में स्थित है। यहां हर साल लाखों पर्यटक आते हैं। समुद्र तल से 3200 फीट की ऊंचाई पर स्थित तिरुमाला की पहाड़ियों पर बना श्री वेंकटेश्वर मंदिर यहां का सबसे बड़ा आकर्षण है।

tirumala tirupati बालाजी के 10 रहस्य, यह चमत्कार हर गुरुवार को देखने को मिलता है

भगवान तिरुपति बालाजी भारत के सबसे चमत्कारी और रहस्यमय मंदिरों में से एक है। भगवान तिरुपति के दरबार में गरीब और अमीर दोनों सच्ची श्रद्धा से अपना सिर झुकाते हैं। तिरुमाला पहाड़ियों पर स्थित इस मंदिर में हर साल लाखों लोग भगवान वेंकटेश्वर का आशीर्वाद लेने आते हैं। ऐसा माना जाता है कि भगवान बालाजी अपनी पत्नी पद्मावती के साथ तिरुमाला में निवास करते हैं। मान्यता है कि सच्चे मन से भगवान की पूजा करने वाले भक्तों की सभी मनोकामनाएं बालाजी पूरी करते हैं। मनोकामना पूरी होने के बाद श्रद्धालु यहां आते हैं और अपनी श्रद्धा के अनुसार अपने बाल tirumala tirupati मंदिर में दान कर देते हैं। इस अलौकिक और चमत्कारी मंदिर से ऐसे रहस्य जुड़े हुए हैं, जिन्हें जानकर आप भी दंग रह जाएंगे। आइए जानते हैं मंदिर से जुड़े ऐसे ही 10 रहस्य

यहां के एक अनजान गांव का राज

तिरुपति बालाजी मंदिर में देवताओं की पूजा के लिए फूल, घी, दूध, छाछ, पवित्र पत्ते आदि तिरुपति से लगभग बाइस किलोमीटर दूर स्थित एक अज्ञात गांव से खरीदे जाते हैं। आज तक इस छोटे से गांव को स्थानीय लोगों के अलावा किसी बाहरी व्यक्ति ने नहीं देखा है।

tirumala tirupati देवता की मूर्ति केंद्र में स्थित नहीं है

गर्भगृह के केंद्र में आप पीठासीन देवता तिरुपति बालाजी की मूर्ति देख सकते हैं, लेकिन तकनीकी रूप से ऐसा नहीं है। मूर्ति वास्तव में मंदिर के दाहिने कोने में रखी गई है।

भगवान बालाजी के बालों का रहस्य

तिरुमाला का ऐसा ही एक अद्भुत रहस्य तिरुमाला मंदिर के गर्भगृह में स्थित मूर्ति से जुड़ा है। ऐसा माना जाता है कि मूर्ति के सिर पर रेशमी और मुलायम बाल असली हैं। ऐसा कहा जाता है कि, एक बार जब भगवान पृथ्वी पर निवास कर रहे थे, तो गलती से उनके कुछ बाल गिर गए। इस बात का पता चलने पर, एक गंधर्व राजकुमारी, जिसके सुंदर बाल थे। ने तुरंत अपने रेशमी और चिकने बालों को काट कर भगवान को अर्पित कर दिया। उनकी भक्ति से प्रभावित होकर भगवान बालाजी ने उनकी भेंट स्वीकार कर ली और उनके सिर पर बाल रख दिए।

भगवान Balaji की मूर्ति के पीछे लहरों की आवाज सुनाई देती है।

सुनने में शायद आपको यकीन न हो, लेकिन सच तो यह है। कि अगर आप बालाजी की मूर्ति के पीछे सुनेंगे तो आपको समुद्र की विशाल लहरों की आवाज सुनाई देगी।

मूर्ति हमेशा गीली रहती है

पुजारी द्वारा पोंछे जाने के बाद भी मूर्ति का पिछला भाग हमेशा नम रहता है।

इस पोस्ट को भी देखें > Hair fall solution home – Juice To Stop Hair Fall In Winter Season

दीपक हमेशा जलता है

भगवान बालाजी के मंदिर में हमेशा एक दीपक जलता रहता है। इस दीये में कभी भी तेल या घी नहीं डाला जाता है। बरसों से जल रहे इस दीये को कब और किसने जलाया, यह कोई नहीं जानता।

इस खबर को भी देखें > news crime hindi : पत्नी को रेलवे ओवरब्रिज से धक्का दिया, फिर पत्थर से सिर कुचला

tirumala tirupati आश्चर्य की छड़ी

मंदिर के मुख्य द्वार पर दरवाजे के दाहिनी ओर एक छड़ी है। इस छड़ी के बारे में कहा जाता है कि भगवान बालाजी को बचपन में इसी छड़ी से पीटा गया था, जिससे उनकी ठुड्डी पर चोट लग गई थी। इसी वजह से आज तक शुक्रवार को उनकी ठुड्डी पर चंदन का लेप लगाया जाता है। उनके घावों को ठीक करने के लिए।

tirumala tirupati online ticket booking की कीमत

तिरुमाला तिरुपति बालाजी टिकट की कीमत तिरुपति दर्शन tirumala tirupati online ticket की कीमत की बात करें तो आप सामान्य दर्शन के लिए ₹50 का भुगतान कर सकते हैं। लेकिन अगर आपके पास समय कम है और आप जल्द से जल्द दर्शन करना चाहते हैं। तो आप विशेष दर्शन (वीआईपी दर्शन) के लिए ₹500 देकर आसानी से दर्शन प्राप्त कर सकते हैं।

  • tirumala tirupati बालाजी मंदिर के लिए टिकट बुक करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए
  • आप एक समय में 4 तीर्थयात्रियों के लिए टीटीडी के माध्यम से अपना टिकट बुक कर सकते हैं, ध्यान दें कि 4 से अधिक बुकिंग ऑनलाइन नहीं की जा सकती हैं।
  • ऐसे में अगर आपके साथ कोई बच्चा है जिसकी उम्र 12 साल से कम है तो उसका टिकट नहीं लगता और वह आसानी से सफर कर सकता है।
  • इसके अलावा ध्यान दें कि अगर आप ऑफलाइन रहकर टिकट खरीदना चाहते हैं तो इसमें काफी समय लगता है जिसमें आपको काफी मशक्कत करनी पड़ती है।
  • साथ ही यह भी ध्यान रखना होगा कि जब भी आप टीटीडी के जरिए। ऑनलाइन बुकिंग करते हैं। तो सिर्फ 1 दिन में 150 टिकट बिक जाते हैं। ऐसे में आपको कम से कम 8 से 10 दिन का समय लेना होगा ताकि आपको सही समय पर टिकट मिल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here